100 पत्नी, 500 बच्चे, इस शख्स की पूरी दुनिया में हो रही चर्चा,देखे पूरी कहानी

पुराने जमाने के इतिहास को पलटने पर अक्सर राजाओं की कई रानियां और उनके सैकड़ों बच्चों की कहानियां देखने को मिल जाती है. लोगों के लिए आश्चर्य की बात उस समय हो सकती है, जब आधुनिकता के इस युग में भी किसी राजा की दर्जनों रानियां और सैकड़ों बच्चे हों. दुनिया में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर बहस के बीच ये बात सामने आई है कि अफ्रीकी राजा अबूम्बी II (African King, Abumbi II) की 100 पत्नियां और 500 बच्चे हैं.

अफ्रीकी राजा अबूम्बी II (King Abumbi II) की अपने दिवंगत पिता की रानियों को अपनी पत्नी के रूप में अपनाने के बाद उनकी करीब 100 पत्नियां हैं.

China Covid: चीन में कितने लोग हुए कोरोना से संक्रमित? चौंका रहे हैं ये आंकड़े

 

100 पत्नी और 500 बच्चे

अबूम्बी II साल 1968 में अपने पिता की मौत के बाद कैमरून में बाफुत का 11वां फॉन या राजा बना. कैमरून में बहुविवाह अभी भी कानूनी है और ग्रामीण इलाकों में पुरुषों के लिए एक से अधिक महिलाओं से शादी करने की परंपरा है. कोई कितनी भी शादियां कर सकता है और इसकी कोई सीमा निर्धारित नहीं है.

विरासत में मिली कई रानियां

कैमरून के बाफुत में प्रथा है कि जब एक राजा की मृत्यु हो जाती है, तो उसके उत्तराधिकारी को उसकी सभी पत्नियां भी विरासत में मिल जाती हैं, जिसका अर्थ है कि अबूम्बी की लगभग 100 रानियां हैं. इन सभी पत्नियों से 500 से अधिक बच्चे हैं. सीएनएन की एक रिपोर्ट के मुताबिक अबूम्बी की तीसरी पत्नी क्वीन कॉन्स्टेंस ने कहा, ‘हर सफल आदमी के पीछे एक महिला होती है.

अबूम्बी की तीसरी पत्नी ने क्या कहा?

अबूम्बी की तीसरी पत्नी क्वीन कॉन्स्टेंस ने आगे कहा, ”हमारी परंपरा यह है कि जब आप राजा होते हैं, तो बुजुर्ग पत्नियां अपने से उम्र में छोटी पत्नियों को परंपरा सौंपने के लिए रहती हैं. साथ ही राजा को परंपरा सिखाने की भी उनकी जिम्मेदारी है क्योंकि राजा उस वक्त राजकुमार था”. स्थानीय परंपरा के मुताबिक अबूम्बी ने अपने पिता की मृत्यु के बाद अपनी कई रानियों को विरासत में प्राप्त किया और उनके 500 बच्चे हैं.

कई भाषाएं बोलती हैं रानियां

राजा अबूम्बी II (King Abumbi II) की सभी रानियां कई भाषाएं बोलती हैं और शिक्षा में भी निपुण हैं. कैमरून (Cameroon) में आज बहुविवाह प्रथा (Polygamy) को चुनौती दी जाती है और अब पहले से कहीं कम बहुविवाह होते हैं. राजा अबूम्बी कहते हैं कि यह उनका काम है कि वे अपने लोगों की संस्कृति और उनकी स्थानीय परंपराओं को बनाए रखें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *