My Affair Story: मैं नहीं चाहती थी लेकिन इस वजह से बॉस को नहीं कर पाई मना, हम दोनों ने बनाए लिए ऐसे रिश्ते

Today Haryana। New Delhi। My Affair Story

My Affair Story: प्यार और रिश्ते एक दूसरे की चाहत में बनते हैं लेकिन कई बार ऐसे रिश्ते भी बन जाते हैं जिसमें व्यक्ति सिर्फ अपने फायदे के लिए आता है। इस महिला के साथ भी ऐसा ही हुआ है। इसी सिर्फ एक फायदा चाहिए था जिसके चक्कर में इसने अपने बॉस के साथ रिश्ते बनाए।

My Affair Story: कॉर्पोरेट कल्चर का आपको पता होगा या चुनौतियों का हर रोज सामना करना पड़ता है। ऊंची पोजीशन पर बैठे लोग कई लोग आगे बढ़ने का लालच देकर गलत काम करते हैं और कम समय में पैसा कमाने की चाह लोगों को ऐसा करने के लिए मजबूर भी कर देते हैं। मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ है।

My Affair Story: मैं नहीं चाहती थी लेकिन इस वजह से बॉस को नहीं कर पाई मना, हम दोनों ने बनाए लिए ऐसे रिश्ते

My Affair Story: मैंने भी कभी नहीं सोचा था कि एक झटके में मेरी वर्क लाइफ पूरी तरह बदल जाएगी। दरअसल, मैं शुरू से एक मजबूत इरादे वाली महिला रही हूं। मुझे हमेशा ही अपने करियर में आगे बढ़ने की जिद थी, जिसके लिए मैंने 25 साल की उम्र में ही एक कंपनी में में काम करना शुरू कर दिया था। मैं काम में काफी अच्छी थी इसलिए बहुत कम समय में मेरा नाम कंपनी के सबसे पॉपुलर लोगों के साथ लिया जाने लगा था। मैंने तीन साल के अंदर ही आसमान छूने जैसी उपलब्धि प्राप्त कर ली थी।

प्रोफेशनल लाइफ हो गई थी सेट

मैं आपसे छिपाना नहीं चाहती एक तरफ जहां मेरी प्रोफेशनल लाइफ सेट हो रही थी, तो वहीं मेरी पर्सनल लाइफ में भूचाल आ गया था। ऐसा इसलिए क्योंकि कोई भी व्‍यक्ति एक घंटे से ज्‍यादा मेरे साथ समय नहीं बिताना चाहता था। इसमें कुछ गलती मेरी भी है। दरअसल, मेरा रवैया बहुत ज्यादा अजीब था। यही एक वजह भी है कि मैंने ऐसी रिलेशनशिप पर फोकस किया, जहां मेरी जरूरतें अच्छे से पूरी हो सकें।

My Affair Story: मैं नहीं चाहती थी लेकिन इस वजह से बॉस को नहीं कर पाई मना, हम दोनों ने बनाए लिए ऐसे रिश्ते

मुझे मिल गया प्रमोशन हो गया

मेरे काम और कड़ी मेहनत की बदौलत मैंने 4 साल में उस कंपनी में अच्‍छी खासी पोजीशन हासिल कर ली थी। एक तरफ जहां मैं हर दिन अपने करियर में आगे बढ़ रही थी, तो वहीं कुछ लोग मुझे देख बुरी तरह जल रहे थे। इस दौरान मेरे बारे में न केवल तरह-तरह की बातें उड़ने लगी थीं बल्कि बहुत लोग अनुमान भी लगाने लगे कि कंपनी के सीईओ के साथ मेरा अफेयर चल रहा है, जिसकी वजह से मैं आगे बढ़ रही हूं। यही नहीं, मैंने लोगों को चुगली करते हुए भी सुना था कि मैं इतनी टैलेंटेड नहीं थी कि मुझे ये जगह हासिल हो। मैंने ये प्रमोशन अपने अफेयर कारण पाया है।

मैं उसकी रखैल बन गई थी

मैं बताना चाहूंगी की यह सब सच था। मेरा अपने सीईओ के साथ रिश्ते में थी। दरअसल, कंपनी में जॉब शुरू करने से पहले मैं अभिषेक से मिली थी। हम दोनों की मुलाकात एक बार में हुई थी। हम एक-दूसरे के साथ वन नाइट स्‍टैंड करना चाहते थे। लेकिन इसके बाद हमने हर रात एक-दूसरे के साथ बिताई। मैं उसके साथ किसी रिश्‍ते में नहीं बंधना चाहती थी। लेकिन उसके साथ हुकअप करना मुझे अच्छा लगता था। जब हमारी मुलाकते बढ़ने लगीं, तो मुझे पता चला कि वह पहले से शादीशुदा है। हालांकि, मेरी नैतिकता ने मुझे उसे दोबारा मिलने से रोक दिया। लेकिन उसकी मजेदार बातों ने मुझे जल्‍द ही उसकी तरफ लुभा लिया। हालांकि, मैं भी उसे ऐसा करने से मना नहीं कर सकी थी।

My Affair Story: मैं नहीं चाहती थी लेकिन इस वजह से बॉस को नहीं कर पाई मना, हम दोनों ने बनाए लिए ऐसे रिश्ते

https://todayharyana.com/viral-news/chanakya-niti-about-husband-and-wife.html

उसने मुझे स्पेशनल फील कराया

मैं आपसे छिपाना नहीं चाहती मेरा सालों से उसके साथ अफेयर चल रहा है। मैं उसके बारे में बहुत ज्‍यादा नहीं जानती हूं। बस इतना जानती हूं कि वो बहुत अमीर है। वह एक अच्‍छे परिवार से ताल्लुक रखता है। मुझे हमारे रिश्‍ते में एक बात बहुत अच्‍छी लगी वह यह कि हम दोनों ने एक-दूसरे की लाइफ को सीक्रेट रखा है। हालांकि, जब मुझे पता चला था कि वो कंपनी का CEO हैं, तो मैं ये देखकर चौंक गई थी। मैं हिचकिचाने लगी थी। लेकिन होटलों में मीटिंग और बिजनेस ट्रिप के दौरान मैं उससे मिलती रही। वो मुझे हर मौके पर स्‍पेशल फील करवाता था। मैं उससे प्‍यार नहीं करती। लेकिन आज मैं जो लाइफ जी रही हूं, उससे बहुत संतुष्ट हूं।

मुझे हर तरह से फायदा हुआ

मैं अपने बॉस को संतुष्‍ट करने में सफल होंगी, मैंने ऐसा कभी नहीं सोचा था। लेकिन ऐसा करने से मुझे हर तरह से फायदा हो रहा है। मुझे इसमें किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं लगती है।

अगर वह अपनी पत्नी से छुपकर यह सब करने का एक सुरक्षित तरीका निकाल सकता हैं, तो मैं भी ऑफिस में किसी को बिना बताए उसकी रखैल बने रहने का एक तरीका ढूंढ सकती हूं। मैं आज जो कुछ भी हूं, वो केवल उसकी बदौलत हूं। आज मेरे पास हर सुख सुविधा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *