Jija Shali Affair: बच्चे न होने पर जीजा साली ने किया यह घिनौना काम, अब खड़ी हुई यह बड़ी मुशीबत!

Jija Shali Affair: बच्चे न होने पर जीजा साली ने किया यह घिनौना काम, अब खड़ी हुई यह बड़ी मुशीबत!

Today Haryana, New Delhi. Jija Shali Affair

Affair: अटूट रिश्तों को खत्म करने का सबे बड़ा कारण है गैर से अफेयर करना है। आज कल के लोग बिना कुछ सोचे समझे शादीशुदा होने के बावजूद भी अफेयर कर लेते हैं और फिर जो उनके साथ होता है उसका उन्हें अंदाजा भी नहीं होता। ऐसा ही एक वाक्य इस व्यक्ति के साथ हुआ है। कहानी सुनन कर आप हेरत मे पड़ जाएंगे ।

Jija Shali Affair: मेरी उम्र 39 साल है। मेरी शादी को 12 साल हो गए हैं। हम पति पत्नी में सबकुछ ठीक चल रहा था लेकिन सबसे बड़ी समस्या आ गई जो की हम दोनों को परेशान करती रहती थी । हमारे बच्चा नहीं हो रहा था। जब मुझे ये सब पता चला कि मेरी पत्नी कभी मां नहीं बन सकती, तो मैं काफी परेशान रहने लगा था। कुछ भी समझ नहीं आ रहा था की एक बच्चा पाने के लिए मैं क्या करू ?

उस समय मेरे सबसे करीब कोई था तो मेरी साली थी। दरअसल मेरी साली हमारे पास ही रहती थी और वो कॉलेज में पढ़ाई कर रही है। उसे भी इस बात का पता लग गया था कि उसकी बहन मां नहीं बन सकती। इसके बाद हम दोनों एक दूसरे के करीब आ गए। मैं पिछले 2 सालों से अपनी साली के साथ रिश्ते में हूं। मैं उससे बहुत प्यार करता हूं और वो भी मुझे चाहती है। हम दोनों के संबंधों के बारे में मेरी पत्नी भी जानती है। लेकिन समस्या ये है कि अब उसकी शादी होने जा रही है। मेरी पत्नी के माता-पिता ने उसका रिश्ता दूसरी जगह तय कर दिया है।

मैं उसके बिना नहीं रह सकता हूं। वो भी मेरे साथ रहना चाहती है। मैंने इस बारे में उसके परिवार वालों से भी बात की, लेकिन वो हमारी शादी के लिए नहीं मान रहे। मेरी पत्नी भी चाहती है कि मैं उससे शादी कर लूं। लेकिन उसके घर वाले अपनी जिद पर अड़े हुए हैं। ऐसे में समझ नहीं आ रहा कि क्या करूं?

एक्सपर्ट की राय

रिलेशनशीप एक्सपर्ट साइकोलॉजिस्ट एवं साइकोथैरेपिस्ट डॉ अनामिका कहती हैं कि रिश्तो का ट्रायंगल एक समय बाद बहुत मुश्किलें पैदा कर देता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस तरह के बंधन में कोई भी पूरी तरह से खुश और संतुष्ट नहीं रह पाता है। आपके साथ भी कुछ ऐसा ही है। आप अपनी पत्नी के साथ-साथ साली को भी साथ रखने की बात कर रहे हैं। ऐसे में सबसे ज्यादा जरूरी यह है कि आप अपने लिए जो भी फैसला करें, वह बहुत ही सोच समझकर और जिंदगी भर निभाने वाले वादे को लेकर करें।

इसमें माता-पिता गलत नहीं

जैसा कि आपने बताया कि आपकी पत्नी को अपनी बहन के साथ आपके संबंध होने में कोई ऐतराज नहीं है। लेकिन उनके परिवार वाले इस रिश्ते के लिए नहीं मान रहे हैं। हालांकि, ऐसे में मैं आपसे यही कहूंगी कि उनके पैरेंट्स अपनी जगह बिल्कुल सही है। वो इस मामले गलत नहीं है ।

ऐसा इसलिए क्योंकि कोई भी माता-पिता यह नहीं चाहेंगे कि उनकी एक बेटी के कारण उनकी दूसरी बेटी का घर टूटे। ऐसा इसलिए क्योंकि अभी तक आप दोनों केवल एक रिश्ते में थे, लेकिन जब कल को आपकी शादी जाएगी, तो साली के प्रति आपकी जिम्मेदारी भी बढ़ जाएगी। ऐसे में आप न केवल अपनी पत्नी पर ध्यान देना बंद कर देंगे बल्कि उनके प्रति आपकी जिम्मेदारियां भी कम होने लगेंगी, जिसे कोई माता-पिता बर्दाश्त नहीं कर सकता है।

आप इस जगह होते तो

आपकी बातों को सुनकर मुझे इतना समझ आ रहा है कि आपकी पत्नी ने बहुत ही मजबूरी में आप दोनों के रिश्ते को स्वीकार किया है, जिसका सबसे बड़ा कारण क्योंकि वह कभी मां नहीं बन सकती हैं। लेकिन सोचने वाली बात ये है कि अगर यही समस्या आपकी पत्नी की जगह आपके साथ होती, तो क्या आप अपनी पत्नी के साथ किसी के रिश्ते को स्वीकार कर पाते। शायद नहीं। इसीलिए ये जरूरी है कि तस्वीर दोनों तरफ से देखी जानी चाहिए। जहां तक बच्चे का सवाल है, तो आप दोनों बच्चा गोद भी ले सकते हैं, जोकि आज के समय में बिल्कुल भी मुश्किल नहीं है।

रिश्ते ठीक करने के लिए करें ये काम

हो सकता है कि आप सोच रहे हो कि 2 सालों से भी तो यह सब चल रहा था, तो अब क्या मुश्किल है। लेकिन सच तो यह है कि मुश्किलें रिश्तो में बंधने के बाद ही आती हैं। इस तरह की परिस्थिति में यह बहुत जरूरी हो जाता है कि एक बार आप-आपकी पत्नी और साली तीनों एक प्रोफेशनल साइकोलॉजिस्ट से संपर्क करें। ये काउंसलिंग साली के किसी दूसरे के साथ जिंदगी में शामिल होने के लिए भी बहुत जरूरी है ताकि उनकी पिछली जिंदगी का प्रभाव उनकी आने वाली मैरिड लाइफ पर न पड़े। वहीं आप और आपकी पत्नी दोनों इमानदारी से अपने रिश्ते को निभा सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *