Cholesterol Control Tips: आज ही अपना लें ये 3 आयुर्वेदिक उपाय, कोलेस्ट्रॉल पिघलकर शरीर से हो जाते हैं बाहर

How to Reduce Cholesterol: शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से आजकल हर चौथा व्यक्ति परेशान है. कोलेस्ट्रॉल मोम की तरह का एक पदार्थ होता है, जो हमारी खून की नसों में पाया जाता है. हम जो कुछ भी भोजन खाते हैं, उससे इसका निर्माण होता है. जब तक यह नियत मात्रा में होता है तो कोई दिक्कत नहीं होती लेकिन जब इसकी मात्रा (High Cholesterol) बढ़ जाती है यह सेहत के लिए खतरनाक बन जाता है. ऐसे में कई सारे लोगों को जिंदगीभर के लिए दवाओं पर भी निर्भर होने को मजबूर होना पड़ जाता है.

जा सकती है रोगी की जान

डॉक्टरों के मुताबिक ट्राइग्लिसराइड्स और हाई कोलेस्ट्रॉल मिलकर कई बार नसों में जम जाते हैं, जिससे शरीर में खून और ऑक्सीजन की आपूर्ति रुक जाती है. इसके चलते लोगों को हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है. आपके साथ ऐसी दिक्कत कभी न आए, इससे निपटने के लिए आज हम आपको आयुर्वेद से जुड़े कुछ आसान उपाय बताते हैं. जिनका इस्तेमाल कर आप अपनी सेहत को आने वाले खतरे से बचा सकते हैं.

खाने में शामिल कर लें ये चीजें

मेडिकल एक्सपर्टों के मुताबिक हाई कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol Control Ayurvedic Tips) की समस्या से बचने के लिए सबसे पहले आप अपने खानपान की आदतों में सुधार कर लें. आप घर में बनने वाली दाल या सब्जी को हमेशा सरसों या तिल के तेल में ही फ्राई करें. अपनी डाइट में सहजन सूप, करी पत्ता, लहसुन और प्याज को जरूर शामिल करें.

रोजाना 10 मिनट करें प्राणायाम

कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol Control Ayurvedic Tips) पर कंट्रोल करने के लिए आप अधिक फाइबर और कम फैट वाला भोजन करें. इसके साथ ही रोजना 20 मिनट तक तेज वॉक या जॉगिंग जरूर करें. खुद को तनाव से बचाने के लिए रोजाना 10 मिनट का प्राणायाम करना भी अच्छा रहता है. इससे कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मदद मिलती है.

आंवले- अदरक के जूस का करें सेवन

डॉक्टरों का कहना है कि शरीर में कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol Control Ayurvedic Tips) और ट्राइग्लिसराइड्स जैसे गंदे पदार्थों को वक्त रहते बढ़ने से रोक देना चाहिए. इसके लिए आप आंवले और अदरक के जूस का इस्तेमाल कर सकते हैं. आपको अच्छी फिटनेस के लिए रोजाना सुबह 5.5ml अदरक का रस और 10ml आंवला के रस इकट्ठा करके उन्हें आपस में शेक कर लेना चाहिए. इसके बाद उन्हें सुबह पीकर अपने काम की शुरुआत करनी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *