Team India: इस खिलाड़ी ने अपने दोहरे शतक के दम पर सेलेक्टर्स को मुंहतोड़ दिया जवाब, जिन्होंने उन्हें केएल राहुल की वजह किया था से टीम इंडिया से बाहर

Team India: टीम इंडिया के एक टैलेंटेड और खतरनाक खिलाड़ी का करियर केएल राहुल की वजह से लगभग तबाह हो गया है, लेकिन अब अचानक इस खिलाड़ी ने अपने बल्ले से तूफान मचाते हुए धमाकेदार अंदाज में दोहरा शतक ठोक दिया है. इस खिलाड़ी ने अपने दोहरे शतक के दम पर सेलेक्टर्स को मुंहतोड़ जवाब दिया है, जिन्होंने उन्हें केएल राहुल की वजह से टीम इंडिया से बाहर किया था. इस खिलाड़ी को टीम इंडिया का भविष्य माना जाता था और उसकी तुलना ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन से भी की जाती थी, लेकिन टीम इंडिया के सेलेक्टर्स ने अब इस खिलाड़ी को केएल राहुल की वजह से भारतीय टीम से निकाल बाहर किया है. मयंक अग्रवाल ने अपनी शुरुआती 12 टेस्ट पारियों में ही भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में 2 दोहरे शतक ठोक दिए थे. ऐसा करके मयंक अग्रवाल ने ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन का रिकॉर्ड भी तोड़ा था.

राहुल की वजह से तबाह हुआ भारत के इस खिलाड़ी का करियर!

बता दें कि धाकड़ बल्लेबाज मयंक अग्रवाल टीम इंडिया में केएल राहुल की वजह से नाइंसाफी का शिकार हुए हैं, जिसके बाद उनका टेस्ट और वनडे टीम से पत्ता कट गया है. मयंक अग्रवाल अब टीम इंडिया में जगह पाने के लिए बुरी तरह तरस रहे हैं और रनों की बारिश भी कर रहे हैं, लेकिन सेलेक्टर्स इस बदनसीब बल्लेबाज को एक भी मौका नहीं दे रहे हैं. केएल राहुल की वजह से अब मयंक अग्रवाल की टीम इंडिया में वापसी नामुमकिन हो गई है. मयंक अग्रवाल ने अपना आखिरी वनडे मैच साल 2020 में खेला था. साल 2022 मार्च में मयंक अग्रवाल ने आखिरी टेस्ट मैच खेला था.

अब दोहरा शतक जड़कर सेलेक्टर्स को दिया मुहंतोड़ जवाब

भारतीय टेस्ट टीम से बाहर चल रहे मयंक अग्रवाल के नाबाद दोहरे शतक की मदद से कर्नाटक ने रणजी ट्रॉफी ग्रुप सी मैच ने गुरुवार को केरल के खिलाफ पहली पारी में महत्वपूर्ण बढ़त हासिल की. कर्नाटक ने सुबह दो विकेट पर 137 रन से आगे खेलते हुए कप्तान अग्रवाल के 360 गेंदों पर बनाए गए 208 रन की मदद से तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक छह विकेट पर 410 रन बनाए. केरल ने अपनी पहली पारी में 342 रन बनाए थे.

17 चौके और पांच छक्के लगाए

मयंक अग्रवाल ने अपनी पारी में 17 चौके और पांच छक्के लगाए. मयंक अग्रवाल ने एसजे निकिन जोस (54) के साथ 151 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की. इन दोनों के अलावा श्रेयस गोपाल ने 48 रन का योगदान दिया. अग्रवाल और गोपाल ने पांचवें विकेट के लिए 93 रन जोड़े. स्टंप उखड़ने के समय विकेटकीपर बल्लेबाज बीआर शरत 47 और शुभांग हेगडे आठ रन पर खेल रहे थे. मयंक अग्रवाल ने सबसे कम पारियों में दो दोहरे शतक लगाने के मामले में डॉन ब्रैडमैन को भी पीछे छोड़ दिया था. टेस्ट क्रिकेट में डॉन ब्रैडमैन ने 13 पारियों में 2 दोहरे शतक जमाए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *