जींद जिले में करोड़पति होंगे किसान, 750 एकड़ जमीन खरीदेगी सरकार

Mukesh Gusaiana
3 Min Read
Preparation to make industrial hub of Jind district

Preparation to make industrial hub of Jind district

Haryana News : हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि सरकार जींद जिला को एक प्रमुख उद्योगिक हब के रूप में विकसित करने की योजना बना रही है। इस कारण, हरियाणा राज्य औद्योगिक एवं आधारभूत विकास निगम ने खटकड़ गांव में भूमि अधिग्रहण के प्रस्ताव का सुझाव दिया है।

इस प्रस्ताव के तहत, खटकड़ टोल के पास 740 एकड़ भूमि पर औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने की योजना है, जिसमें 360 एकड़ और 380 एकड़ की जमीन पर दो अलग-अलग औद्योगिक क्षेत्रों की स्थापना की जाएगी। निगम ने इसके लिए 27 अक्तूबर 2023 तक इच्छुक किसानों को जमीन प्रदान करने के लिए सूचना दी है।

इच्छूक किसान ई- भूमि पोर्टल पर निर्धारित तिथि तक अपनी स्वीकृति पत्र भेज सकते है। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने यह बात नरवाना विधानसभा क्षेत्र के गांव उझाना में ग्रामीण जनसभा को संबोधित करते हुए कहीं।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि औद्योगिक जोन बनने के बाद भविष्य में जींद जिला औद्योगिक हब के रूप में उभरेगा। इससे जिला में विभिन्न तकनीकी औद्योगिक ईकाईयां स्थापित होगीं, जिससे जिला में विकास को नई गति मिलेगी वहीं हजारों युवाओं को रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे।

जींद जिले के इंडस्ट्रियल हब बनाने की तैयारी, 750 एकड़ जमीन खरीदेगी सरकार, करोड़पति होंगे किसान

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश का औद्योगिक विकास सरकार की प्राथमिकताओं में शुमार है, इसके लिए भविष्य की योजना के तहत हरियाणा में 7 औद्योगिक जोन बनाने की योजना तैयार की गई है, जिसमें दो जोन सोहना, तीन जोन रेवाड़ी तथा दो औद्योगिक जोन जींद में बनाए जाने प्रस्तावित है।

दिल्लीवालों के लिए खुशखबरी! जल्द मिलने वाली है 400 इलेक्ट्रिक बसें

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने अपने संबोधन में यह भी कहा कि प्रदेश में ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाली करीब 700 किलोमीटर मार्केटिंग बोर्ड की सड़कों को अब लोक निर्माण विभाग के अन्तर्गत हैंडओवर किया गया है और इन सभी सड़कों का जल्द ही निर्माण, विस्तारीकरण तथा नवीनीकरण लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जाएगा, इन सड़कों के निर्माण से गांव दर गांव यातायात सुुगमता तथा कनेक्टिवीटी और बेहतर होगी। बेहतर सड़कों के निर्माण तथा अन्य आधारभूत सुविधाओं के उपलब्ध होने से गांवों का भी शहरों के बराबर विकास लाजमी बनेगा।

Haryana: 500 से ज्यादा लिपिकों की नौकरी पर संकट के बादल, सात दिन में जाएगी नौकरी

Share This Article
Follow:
मुकेश गुसाईंना (Mukesh Gusaiana) किसान केसरी में सीनियर एडिटर और इसके सस्थापक हैं. डिजिटल मीडिया में 9 साल से काम कर रहे हैं. इससे पहले जनता टाइम पर अपनी सेवाएं दे रहे थे, इन्होने अपने करियर की शुरूआत चौपाल टीवी में कंटेंट राइटिंग से की और पिछले कई सालों से लगातार ऊँचाइयों को छूते जा रहे हैं ।
Leave a comment