खुशखबरी! किसानों को सही समय पर मिलेंगे खाद-बीज, हर चीज पर रखी जाएगी निगरानी

Mukesh Gusaiana
2 Min Read
Farmers will get fertilizers and seeds at the right time

Cooperative Societies: खाद-बीज के वितरण के मामले में, जब भी विवाद उत्पन्न होता है, तो इसकी प्रबंधन और सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी सीधे सरकारी समितियों की होती है। भारत के विभिन्न राज्यों में, खाद-बीज के वितरण से संबंधित कई चुनौतियाँ आती रहती हैं।

अब उत्तर प्रदेश सरकार ने खाद-बीज के वितरण की निगरानी बढ़ाने के लिए सहकारी समितियों को उनके राज्य में हाईटेक सुविधाएं देने का काम शुरू किया है। इसकी तैयारी तेजी से हो रही है और समितियों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का काम तेजी से प्रगति कर रहा है। यह जानकारी मिली है कि इन कैमरों की स्थापना कार्य कुछ ही दिनों में पूरा हो जाएगा।

सबसे पहले, उत्तर प्रदेश की हमीरपुर जनपद में खाद-बीज के वितरण पर नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। हमीरपुर में कुल 42 सहकारी समितियाँ हैं और इन सभी समितियों को देखभाल के लिए उपयुक्त कैमरे लगाए जा रहे हैं।

सरकार ने समितियों के कर्मचारियों को सही समय पर खाद-बीज प्रदान करने के लिए सख्त निर्देश दिए हैं और उन्हें तत्परता से काम करने के लिए प्रोत्साहित किया है। समितियों के हर कर्मचारी के ऊपर नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।

यह सुनिश्चित किया जाएगा कि जिन समितियों में सीसीटीवी कैमरे नहीं होंगे, वहां खाद और उर्वरक का आवंटन नहीं किया जाएगा। यदि किसी गांव से किसानों को खाद और उर्वरक उपलब्ध कराया जाता है, तो उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही, सीसीटीवी कैमरों की मदद से खाद और उर्वरक की जानकारी सरकार के पास सटीक रूप से उपलब्ध होगी।

Share This Article
Follow:
मुकेश गुसाईंना (Mukesh Gusaiana) किसान केसरी में सीनियर एडिटर और इसके सस्थापक हैं. डिजिटल मीडिया में 9 साल से काम कर रहे हैं. इससे पहले जनता टाइम पर अपनी सेवाएं दे रहे थे, इन्होने अपने करियर की शुरूआत चौपाल टीवी में कंटेंट राइटिंग से की और पिछले कई सालों से लगातार ऊँचाइयों को छूते जा रहे हैं ।
Leave a comment