Haryana News : हरियाणा के इस शहर में चंडीगढ़-गुरुग्राम की तर्ज पर बसेगा एयरपोर्ट के आसपास का क्षेत्र, बनाया गया सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट

Haryana News : हरियाणा के इस शहर में चंडीगढ़-गुरुग्राम की तर्ज पर बसेगा एयरपोर्ट के आसपास का क्षेत्र, बनाया गया सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट

Haryana News : हरियाणा के हिसार के लिए बनाया गया सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट एविएशन हब हिसार और आसपास के क्षेत्र की कायाकल्प करने वाला प्रोजेक्ट साबित होने जा रहा है। जल्द ही हिसार एयरपोर्ट के आसपास का क्षेत्र चंडीगढ़ एवं गुरुग्राम की तर्ज पर बसता हुआ दिखाई देगा।

महाराजा अग्रसेन के नाम पर लगभग हजार करोड़ की लागत से बनने वाले इस एयरपोर्ट को लेकर जहां प्रदेश सरकार उत्साहित है, वहीं इसके आसपास के क्षेत्र के डेवलेपमेंट के लिए यहां का विकास चाहने वाले लोग भी सामने आने लगे हैं। केवल हिसार ही नहीं, प्रदेश भर के लोगों की नजर अब यहां पर टिकी है।

 

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला एवं शहरी निकाय मंत्री कमल गुप्ता लगातार इसे प्रदेश की महत्वाकांक्षी योजना बताते हुए यहां एविएशन हब के लिए हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराने को तत्पर हैं। एयरपोर्ट को जल्दी से जल्दी बनाने की सरकार की यही प्रतिबद्धता यहां के लोगों में विकास का उत्साह भर रही है।

बताया जा रहा है कि हिसार के विकास में योगदान के लिए यहां की एक टैक्सटाइल कंपनी ने भी सरकार से संपर्क किया है और वो यहां एक स्मार्ट टाउनशिप लेकर आ रही है।

संभावना है कि हिसार के लोगों को एयरपोर्ट के नजदीक और हाईवे के साथ लगती भूमि पर उनके सपनों का शहर आने वाले समय में दिखाई दे। इसी तरह दिल्ली-एनसीर की अनेक बड़ी रीयल एस्टेट कंपनियां यहां पैसा लगाने के लिए लालायित दिखाई दे रही हैं।

हिसार में हवाई अड्डे के आस-पास अन्य उद्योगाें को विकसित करने की योजना पर भी हरियाणा सरकार गंभीरता से विचार कर रही है।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के अनुसार हिसार में करीबन दस हजार एकड़ भूमि उपलब्ध है और एविएशन हब के आसपास उद्योगों को विकसित करने के लिए सर्वोत्तम संभावनाएं हैं।

इस ड्रीम प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारने के लिए हरियाणा सरकार द्वारा ‘ महाराजा अग्रसेन अंतरराष्ट्रीय हिसार हवाई अड्डे’ के निर्माण कार्यों के लिए 946 करोड़ रूपये की राशि खर्च की जानी है। आवंटित धन राशि को दूसरे फेज में चल रहे हवाई अड्डे के निर्माण कार्यों को पूरा करने के लिए अलग-अलग मदो में खर्च किया जाना है।
इंटीग्रेटेड एविएशन हब के रूप में विकसित किए जा रहे हिसार हवाई अड्डे के निर्माण कार्यों के दूसरे चरण में यात्री रेल लाईन के अलावा कार्गो रेलवे लाइन का निर्माण भी शामिल है। आवंटित धनराशि का प्रयोग आगामी तीन वर्षों के दौरान किया जाएगा।

महाराजा अग्रसेन का बसाया गया अग्रोहा नगर हिसार से महज 20 किलोमीटर की दूरी पर है और अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के नामकरण से अब अग्रोहा को भी अंतरराष्ट्रीय पहचान मिलेगी।

आवंटित राशि के तहत हवाई अड्डे में कैट लाइट सुविधायुक्त तीन हजार मीटर रनवे का निर्माण, टर्मिनल बिल्डिंग, 23 मीटर चौड़ा टैक्सी ट्रैक, पार्किंग स्टैंड, कार्गो टर्मिनल, फायर स्टेशन, एयर ट्रैफिक कंट्रोल बिल्डिंग, चारदीवारी, लाइट, मेंटेनेंस बिल्डिंग, एयरपोर्ट सिक्योरिटी बिल्डिंग, डोमेस्टिक कार्गो बिल्डिंग, पावर हाउस, विद्युत प्रसारण स्टेशन, पब्लिक पार्किंग स्पेस सहित अन्य भवनों का निर्माण होगा।

हवाई अड्डे के निर्माण के लिए सरकारी जमीन पर 7200 एकड़ जमीन की व्यवस्था की जा चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *