todayharyana

सिरसा में महिला-पुरुष की डिग्गी में डूबने से मौत: नरमा की चुगाई के लिए आए थे; डूबती हुई महिला ने बचाव के लिए आए युवक के गले में डाला हाथ

Man and woman died due to drowning in trunk in Sirsa: Had come to fuck Narma; Drowning woman puts her hand around the neck of the young man who came to rescue her
 | 
Man and woman died due to drowning in trunk in Sirsa: Had come to fuck Narma; Drowning woman puts her hand around the neck of the young man who came to rescue her

सिरसा में महिला-पुरुष की डिग्गी में डूबने से मौत: नरमा की चुगाई के लिए आए थे; डूबती हुई महिला ने बचाव के लिए आए युवक के गले में डाला हाथ
  
Today Haryana, Sirsa:
हरियाणा के सिरसा के गांव रिसालिया खेड़ा में नरमे की चुगाई करने खेत में गए एक महिला व पुरुष की डिग्गी में डूबने से मौत हो गई। हादसे से ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों के शवों को डिग्गी के पानी में से निकालकर नागरिक अस्पताल में पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है।

जानकारी के अनुसार कर्मजीत कौर (45) निवासी मोड़ नाभा तहसील तपा, जिला बरनाला (पंजाब) से रिसालिया खेड़ा के गिंदड़ा रोड पर एक जमींदार के खेत में खड़ी नरमे की चुगाई करने के लिए अपने परिवार के साथ आई थी। महिला नहाने के लिए खेत में बनी डिग्गी से पानी लेने के लिए गई। वह पानी निकलने लगी तो उसका पैर फिसल जाने से वह डिग्गी में गिर गई और डूबने लगी।
  Man and woman died due to drowning in trunk in Sirsa: Had come to fuck Narma; Drowning woman puts her hand around the neck of the young man who came to rescue her

महिला ने बचाने के लिए शोर मचाना शुरू किया। उसका शोर सुनकर गुरजंट सिंह (25) जोकि लेबर के साथ ही खेत में आया हुआ था, ने डिग्गी में उतर कर महिला को बचाने का प्रयास किया। डूब रही महिला कर्मजीत कौर ने गुरजंट सिंह के गले में दोनों हाथ डाल दिए। इसके बाद दोनों ही पानी में डूब गए। लेबर के अन्य लोगों ने शोर मचाया। तब तक दोनों ही डिग्गी की तलहटी में चले गए।

महिला और युवक के डूबने की सूचना पर गोताखोर को बुलाया गया। डिग्गी में से दोनों को ढूंढने का प्रयास किया। जब तक दोनों को पानी से बाहर निकाला गया, उनकी मौत हो चुकी थी। सूचना पाकर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल डबवाली में पहुंचाया। परिजनों ने दोनों की मौत को हादसा बताया। पुलिस ने उनके बयान पर 174 की कार्रवाई कर पोस्टमार्टम के उपरांत दोनों शव परिजनों को सौंप दिए।