Today Haryana

इस जिले में 26 निजी अस्पतालों में मिलेगा आयुष्मान योजना का लाभ

पंचायत भवन में आयोजित आयुष्मान कार्ड वितरण समारोह में मिले कार्ड को दिखाते एक परिवार के सदस्य

इस जिले में 26 निजी अस्पतालों में मिलेगा आयुष्मान योजना का लाभ
X

Today Haryana, Bhiwani

भिवानी। जिले में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत सरकारी अस्पताल के अलावा 26 निजी अस्पतालों को पैनल में शामिल किया है। इसमें लाभार्थी को उपचार के लिए अस्पताल में दाखिल होना जरूरी है। जिले में 140768 परिवारों के 459375 लोगों को लाभ मिलेगा। इनमें से 87507 लोगों के कार्ड बन चुके हैं।

जिले में 16 नवंबर से आयुष्मान योजना के गोल्डन कार्ड बनने शुरू किए थे, जिन्हें 30 नवंबर तक सभी के कार्ड बनाने का लक्ष्य रखा है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिलेभर के पात्र लाभार्थियों की सूची नगर पार्षद, सरपंच और आशा वर्कर को साझी की हुई है। इन सूची में स्थान पाने वाले लाभार्थी नजदीक कॉमन सर्विस सेंटर में जाकर अपना कार्ड बनवा सकते हैं। कार्ड बनवाने के लिए पीपीपी साथ लेकर जानी अनिवार्य है, जिसमें परिवार के प्रत्येक सदस्य की बायोमेट्रिक पर अंगुठे दर्ज हो रहे हैं। जिले में लगभग 1200 सीएससी सेंटर हैं, जिनमें से 580 सीएससी सेंटरों को यूजर आईडी पासवर्ड दिया हुआ है। जहां पर जाकर नियम व शर्तों अनुसार लाभार्थी अपना आयुष्मान कार्ड बनवा सकता है। अब तक सिर्फ उन्हीं लोगों के आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाए जाए रहे थे, जो वर्ष 2011 की जनगणना के समय बीपीएल श्रेणी में आते थे। अब इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिलेगा।

ये रहेंगी उपचार की प्रक्रिया

नागरिक अस्पताल में आयुष्मान योजना के नोडल ऑफिसर मधुप सेठी ने बताया कि आयुष्मान गोल्डन कार्ड के पात्रों को लाभ तभी मिलेगा जब वे अस्पताल में दाखिल होंगे। इसके लिए मरीज को अस्पताल में दाखिल होने के अपना गोल्डन कार्ड अस्पताल के स्टाफ को दिखाना होगा, जिसमें उनके कार्ड का ऑनलाइन रिकॉर्ड जांचा जाएगा। इसके बाद मरीज का उपचार पांच लाख रुपये तक निशुल्क किया जाएगा। हालांकि निजी अस्पताल को सरकार की ओर से यह राशि उपलब्ध करवाई जाएगी।

किन-किन बीमारियों को किया है शामिल

आयुष्मान योजना के तहत नागरिकों की सुविधा के लिए अस्पतालों को पैकेज बांटे गए हैं। योजना में लाभार्थियों के लिए कुल 1370 ट्रीटमेंट पैकेज रिजर्व हैं। इनमें कार्डियोलोजी, कैंसर, यूरोलॉजी, सर्जिकल ऑनकोलॉजी, मेंटल डिसऑर्डर, रेडिएशन ऑनकोलॉजी आदि अन्य बड़ी बीमारियों को शामिल किया है। इन 1370 ट्रीटमेंट पैकेज का लाभ सिर्फ अस्पताल में एडमिट मरीज को ही मिलेगा।

इन अस्पतालों में मिलेगा निशुल्क उपचार

अमन अस्पताल, अंचल मल्टीस्पेशलिस्टी अस्पताल, भिवानी हार्ट हॉस्पिटल, सीएचसी धनाना, सीएचसी जमालपुर, सीएचसी कैरू, सीएचसी लोहारू, सीएचसी मानहेरू, सीएचसी मीरान, सीएचसी धनाना, चुघ अस्पताल भिवानी, धीर अस्पताल भिवानी, ईएसआई अस्पताल भिवानी, आईक्यू अस्पताल, जांगड़ा अस्पताल, जेबी गुप्ता अस्पताल, जीवन नर्सिंग होम भिवानी, कदम मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल, किशन लाल जालान नेत्र अस्पताल, लाइफ लाइन स्पेशलिटी अस्पताल, पंवार अस्पताल भिवानी, राहुल गोयल ट्रामा एंड ज्वाइंट रिपलेस्मेंट सेंटर, रणबीर अस्पताल, आरपीएस अस्पताल, एसडीएच बवानीखेड़ा, एसडीएच सिवानी, एसडीएच तोशाम, शर्मा अस्पताल, शर्मा नर्सिंग होम, श्रीगणेश अस्पताल, सिंगला अस्पताल, मान मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल, एसकेपी अस्पताल, एसएमएसजी अस्पताल, स्पेश अस्पताल, त्रिवेणी डेंटल क्लीनिक सेंटर, धमीजा अस्पताल में उपचार करवा सकते है।

आयुष्मान योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाए जा रहे हैं। जिन भी लाभार्थियों का सूची में नाम है वे सीएचसी में जाकर अपना कार्ड बनवा लें, ताकि योजना का लाभ मिल सकें। आशा वर्कर को सूची दी गई है जहां से लाभार्थी अपना नाम देख सकते हैं।

- डॉ. रघुबीर शांडिल्य, सिविल सर्जन।

Next Story
Share it