Today Haryana

सिरसा दुष्कर्म मामला: कलयुगी बाप को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा, नशे में धुत होकर अपनी बेटी से की थी दरिंदगी।

सिरसा कोर्ट ने बेटी के साथ दुष्कर्म करने वाले पिता को सुनाई फांसी की सजा

सिरसा दुष्कर्म मामला: कलयुगी बाप को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा, नशे में धुत होकर अपनी बेटी से की थी दरिंदगी।
X

Today Haryana, Sirsa

सिरसा में नाबालिग बेटी के साथ दुष्कर्म करने वाले एक कलयुगी बाप को कोर्ट ने फांसी की सुनाई है। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायालय सिरसा ने फैसला सुनाते हुए पीड़िता को 5 लाख रुपए मुआवजा भी देने के आदेश दिए हैं।

हरियाणा के सिरसा जिले के इतिहास में पहली बार पॉक्सो एक्ट में फास्ट ट्रैक कोर्ट ने वीरवार को बेटी (12) से दुष्कर्म करने के दोषी पिता को मौत की सजा सुनाई है। इससे पहले हत्या व तस्करी के मामले में दो बार दोषियों को मौत की सजा सुनाई गई थी।

सजा का फैसला सुनाए जाने से पहले दोषी पिता न्यायाधीश प्रवीण कुमार से हाथ जोड़कर बोला कि जज साहब मुझे फांसी की सजा मत देना। मानता हूं मेरे से बहुत बड़ी गलती हुई है। दोषी कठघरे में रोते हुए न्यायाधीश के सामने गिड़गिड़ाने लगा। न्यायाधीश कुछ देर तक उसकी ओर देखते रहे। इसके बाद बोले जो घोर अपराध तुमने किया है, उसके लिए मौत की सजा देना न्याय संगत है।

सिरसा महिला थाने में इस संबंध में मामला दर्ज किया गया था। महिला थाने सिरसा में पीड़िता की मां ने सूचना देकर बताया था कि 26 सितंबर की रात शराब के नशे में उसके पति ने उसके साथ झगड़ा किया और उसे घर से निकाल दिया।

उस वक्त घर में उसके दो बच्चे, 12 वर्षीय एक बेटी और छोटा बेटा सोए हुए थे। उसने पुलिस को बताया था कि उस रात शराब के नशे में उसके पति ने अपनी नाबालिग बेटी को हवस का शिकार बना लिया।

सुबह जब वह घर लौटी तो उसकी बेटी ने रात को हुए घटनाक्रम की जानकारी अपनी मां को दी। पुलिस को सूचित किए जाने के बाद पुलिस ने पीड़ित बच्ची के ब्यान दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी थी।

वीरवार को इस मामले में कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए आरोपी पिता को फांसी की सजा के साथ-साथ पीड़िता को 5 लाख रुपए मुआवजा देने के भी आदेश दिए हैं।



ये है पूरा मामला

पुलिस को दिए बयान में बालिका ने बताया था कि वह सातवीं कक्षा में पढ़ती है। उसका पिता शराब पीने का आदी है। नशे में घर पर झगड़ा करता रहता है। 26 सितंबर 2020 को उसके पिता ने उसकी मां के साथ झगड़ा करके उसे घर से बाहर निकाल दिया। रात को वह अपने भाई के साथ चारपाई पर सोई हुई थी। देर रात पिता ने उसे उठाया और जबरन उसके साथ दुष्कर्म किया। पिता ने उसे धमकी दी कि अगर किसी को इस बारे में बताया तो जान से मार दूंगा। अगले दिन मां घर लौटी तो उसने डर के मारे उसे कुछ नहीं बताया। इसके बाद पेट में दर्द होने लगा तो उसने मां को सारी आप बीती बता दी। इसके बाद मां उसे सरपंच के पास ले गई। फिर घटना की जानकारी महिला थाना सिरसा पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस ने पीड़िता का सिविल अस्पताल में मेडिकल कराया, जिसमें दुष्कर्म की पुष्टि हो गई थी। इस पर पुलिस ने पीड़िता का बयान दर्ज करके आरोपी पिता के खिलाफ पॉक्सो एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया था।

Next Story
Share it