Animal Husbandry: पशुपालक भाइयों को डेयरी विभाग दे रहा है 5 लाख रुपये का ईनाम, इस तारीख तक करें आवेदन

Rakesh Gusaiana
3 Min Read

Animal Husbandry: देश के ग्रामीण क्षेत्रों के लिए पशुपालन आय का एक प्रमुख स्रोत बन चुका है, जिसके परिणामस्वरूप सरकार ग्रामीण विकास की दिशा में निवेश को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहित कर रही है।

आपके पास देसी गाय-भैंस का संरक्षण हो और आप डेयरी व्यवसाय में जुड़े हों, तो आपको प्रोत्साहन दिया जा सकता है, जिसमें आपको 5 लाख रुपये तक की प्रोत्साहन राशि प्राप्त हो सकती है।

सरकार ने मांगा राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार के लिए आवेदन

यह नया पहलू सरकार के पशुपालन एवं डेयरी विभाग द्वारा आयोजित किए जा रहे राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार के माध्यम से प्रकट हो रहा है। इसके तहत, पहले स्थान पर 5 लाख रुपये का पुरस्कार प्रदान किया जाएगा, दूसरे स्थान पर पांच लाख रुपये का इनाम और तीसरे स्थान पर दो लाख रुपये की धनराशि दी जाएगी।

यह पुरस्कार हर साल 26 नवंबर, जिसे दुग्ध दिवस के रूप में मनाया जाता है, को दिया जाता है। पशुपालक 15 सितंबर तक इस पुरस्कार के लिए आवेदन कर सकते हैं, जो ग्रामीण क्षेत्रों में पशुपालन के क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देने का एक प्रयास है।

किसानों को 3 समूहों में दिया जाता है ये अवॉर्ड

देश में 2014 दिसंबर में “राष्ट्रीय गोकुल मिशन (आरजीएम)” शुरू किया गया था, जिसका उद्देश्य किसानों को पशुपालन के क्षेत्र में प्रेरित करना और उनके योगदान को मान्यता प्रदान करना था।

इस मिशन के अंतर्गत, किसानों को तीन विभिन्न श्रेणियों (स्वदेशी मवेशी/भैंस पालन, कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन, और डेयरी सहकारी/दूग्ध उत्पादक संगठन) में पुरस्कृत किया जाता है।

इस पुरस्कार के लिए योग्यता:

  • इस पुरस्कार के लिए वही किसान योग्य हैं, जो गाय की 50 देसी नस्लों और भैंस की 18 देसी नस्लों में से किसी एक का पालन करता हो।
  • या फिर कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन जिसने इस काम के लिए कम से कम 90 दिनों की ट्रेनिंग ली हो।
  • या फिर दुग्ध उत्पादक कंपनी जो प्रतिदिन 100 लीटर दूध का उत्पादन करती है, और उनके साथ तकरीबन 50 किसान जुड़े हुए हों।

यहां आवेदन कर सकते हैं किसान

ये पुरस्कार राष्ट्रीय दुग्ध दिवस (26 नवंबर, 2023) के अवसर पर दिए जाएंगे। इच्छुक किसान पात्रता मानदंड और नामांकन की ऑनलाइन प्रक्रिया के बारे में अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट https://awards.gov.in पर भी विजिट कर सकते हैं।

Share This Article
Leave a comment