Wheat: गेहूं के भावों में बड़ा उछाल, कोलकाता से लेकर दिल्ली तक, और भी होगा सुधार

Wheat: किसान भाइयों गेहूं बाजार में सोमवार को जबर्दस्त तेजी का रुख रहा. दिल्ली के लॉरेंस रोड पर राजस्थान लाइन का गेहूं 3010  रुपए और एमपी लाइन का गेहूं 3000 रुपए के स्तर का कारोबार करता हुआ. कोलकाता में गेहूं की कीमतें 314 0 तक बोली जा रही है इतना ही नहीं या आटा, सूजी, मैदा के दाम भी आसमान छू रहे हैं. आटा का थोक भाव 3200 रूपये प्रति क्विंटल और मैदा का 3220  रुपए प्रति क्विंटल के स्तर पर पहुंच गया.

हरियाणा की मंडियों में सामान्य गेहूं का भाव 2650  से लेकर 2850  तक बोला जा रहा है. सोमवार को भिवानी में गेहूं की कीमतें 2800 तक कारोबार करती दिखाई दी. गुजरात में गेहूं के दाम 2950 रुपए तक और आटा का भाव 3000 के आसपास बोले जा रहे हैं. जबकि मैदा थोक भाव 3150 से 3200 रुपए तक के भाव पर कारोबार कर रहा है.

उत्तर प्रदेश की मंडियों में गेहूं की कीमतें 3000 का स्तर छू कर 3100 के स्तर को छूने तैयारी कर रही है. बुलंदशहर में गेहूं की कीमतें 2900 से अधिक है जबकि अशोकनगर में 3100 के भाव बोले जा रहे हैं.

मंडियों में आवक लगभग शून्य है लेकिन उत्तर प्रदेश की कुछ मंडियों में 100 से 200 बैग की आवक हो रही है. जानकारों का कहना है कि सरकार ने अभी तक खुले बाजार में गेहूं बेचने की योजना पर कोई काम शुरू नहीं किया है. और घरेलू स्टॉक कमजोर होने के कारण खरीदी बढ़ रही है. हालांकि नई रबी सीजन में गेहूं की बिजाई का रकबा बड़े स्तर पर बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है.

 

 

लेकिन नई फसल आने में अभी भी लगभग ढाई महीने का समय बाकी है इसलिए माना जा रहा है कि जनवरी के अंत से पहले यदि सरकार ने कोई निर्णय नहीं लिया तो कीमतों में कमी आने की कोई संभावना नहीं है दिल्ली लॉरेंस रोड पर भाव कभी भी 50 से 75 तक सुधर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *