Agriculture News: गेहू और सरसो की कटाई के बाद किसानो को ये फसल करनी चाहिए, अच्छी पैदावार के साथ मोटा मुनाफा

Gurmeet
By Gurmeet
3 Min Read

Agriculture News : फिलहाल खेतों में गेहूं और सरसों की फसल बोई गई है. गर्मियों के सीजन में गेहूं और सरसो की कटाई के बाद किसान अपने खेतों को खाली छोड़ देते हैं. पर क्या आप जानते हैं अपने खेतों को खाली छोड़ने की बजाय वहां पर तिल की बुवाई करके भी अच्छा Profit कमा सकते है. जी हाँ किसान तिल की बुवाई कर सकते हैं. पर इसके लिए किसानों को कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना होगा. जैसे खेत को अच्छे से जोतकर उसमें सही ढंग से बीज की बुआई करें.

गेहूं और सरसों की कटाई के बाद कर सकते हैं तिल की बुवाई:

इसके अलावा अच्छी Quality के बीज लाये व सही समय पर पानी लगाएं. फिरोजाबाद के कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ. ओमकार सिंह ने बताया कि रबी फसलों का Season करीबन खत्म होने को है. ऐसे में गेहूं और सरसों की कटाई के बाद खेत खाली रह जाते हैं. इस बीच किसानों को अपने खेतों में तिल की खेती कर लेनी चाहिए. वैज्ञानिकों ने बताया कि खेतों में तिल के बीज की बुवाई करने से पहले बलुई दोमट मिट्टी देखें. इसके बाद रोटावेटर से खेत की एक बार जुताई करें.

बुवाई करते वक़्त रखें कुछ बातों का ध्यान:

फिर दो से तीन बार कल्टीवेटर से खेत की जुताई करें . तिल के बीज को बोते समय इस बात का ध्यान रखें कि बीज की बुवाई एक पंक्ति में हो, इससे फसल अच्छे से पनप सकेगी तथा उपज अच्छी होगी. तिल के पौधों के बीच की दूरी 12 से 15 सेमी. होनी चाहिए. अगर किसान इस तरीके से तिल की खेती करेंगे, तो निश्चित ही उन्हें अच्छा खासा मुनाफा होगा तथा उनकी आय में वृद्धि होगी.उन्होंने बताया कि गर्मियों के सीजन में मार्केट में तिल का भाव भी अच्छा मिलता है.

सही समय पर करें खेत की सिंचाई:

जिससे किसानों को एक एकड़ फसल से ही लाखों रुपए की कमाई हो सकती है. कृषि वैज्ञानिक ने जानकारी दी कि किसानों को तिल की बुवाई करने के बाद इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि खेत की सिंचाई सही समय पर की जाए. तिल की बुवाई के बाद 20 से 25 दिन में फसल की सिंचाई कर देनी चाहिए, जिससे फसल सूखे नहीं और उसके बाद दूसरी सिंचाई 7 से 10 दिन के अंदर कर देनी चाहिए.

Share This Article
Leave a comment