पतंजलि 5 Kw सोलर पैनल : बाबा रामदेव का 5 किलोवाट का सोलर पैनल करेगा आपके घर को जगमग, वो भी बिल्कुल फ्री

saneha verma
3 Min Read

पतंजलि 5 Kw सोलर पैनल : बाबा रामदेव का 5 किलोवाट का सोलर पैनल करेगा आपके घर को जगमग, वो भी बिल्कुल फ्री

UP News : अब योगी सरकार उत्तर प्रदेश में लॉन्च करेगी 4G Electricity meter, घर घर लगाए जाएंगे 4G स्मार्ट मीटर, मिलेंगे अनेक फायदे

खेत खजाना : उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल में एक मार्च से बिजली के 4जी प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाने की योजना शुरू हो गई है। इससे बिजली की चोरी और बिल भुगतान की समस्या को कम किया जाएगा। इसके अलावा, उपभोक्ताओं को अपनी बिजली की खपत को नियंत्रित करने और बचत करने का मौका मिलेगा। इस योजना के तहत, पहले शहरी इलाकों में 30 डिवीजनों में 2.5 लाख मीटर लगाए जाएंगे। इसके बाद, ग्रामीण इलाकों में भी इसका विस्तार किया जाएगा।

4जी मीटर के फायदे

4जी मीटर के लगने से उपभोक्ताओं को कई फायदे होंगे, जैसे-

उपभोक्ता अपने मोबाइल फोन से अपना बिजली बिल जान सकते हैं और ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं।

उपभोक्ता अपनी बिजली की खपत को रियल टाइम में देख सकते हैं और अपनी जरूरत के अनुसार लोड को बढ़ाया या घटाया जा सकता है।

उपभोक्ता अपने मीटर को रिमोटली ऑन या ऑफ कर सकते हैं, जिससे बिजली की बर्बादी और चोरी रोकी जा सकती है।

उपभोक्ता अपने मीटर को प्रीपेड या पोस्टपेड मोड में चला सकते हैं, जिससे उन्हें अपनी बजट के अनुसार बिजली का उपयोग करने की आजादी मिलेगी।

उपभोक्ता अपने मीटर को अपनी पसंद के तरीफ प्लान में बदल सकते हैं, जिससे उन्हें बिजली के अलग-अलग समय में अलग-अलग दरों पर बिल भरना पड़ेगा।

4जी मीटर की तैयारी

4जी मीटर की तैयारी पूरी हो चुकी है। इसके लिए, एक चार सदस्यीय समिति ने ग्रांटेड टेक्निकल पैरामीटर (जीटीपी) फाइनल कर दिए हैं। इसमें, मीटर के डिजाइन, स्पेसिफिकेशन, कम्युनिकेशन, सिक्योरिटी, डाटा ट्रांसफर, बिलिंग, रिपोर्टिंग आदि के बारे में निर्धारित किए गए हैं। इसके अलावा, जिओ कंपनी के साथ एक समझौता किया गया है, जो मीटर को अपने नेटवर्क से जोड़ेगी। जिओ का नेटवर्क देश के 95 फीसदी से अधिक आबादी को कवर करता है।

4जी मीटर की चुनौतियां

4जी मीटर के लगने के साथ ही, कुछ चुनौतियां भी सामने आएंगी, जैसे-

उपभोक्ताओं को मीटर के नए फीचर्स और फंक्शन को समझने और इस्तेमाल करने में दिक्कत हो सकती है।

उपभोक्ताओं को अपने मोबाइल फोन को रेगुलर रूप से चार्ज करना होगा, ताकि वे अपना बिजली बिल और खपत देख सकें।

उपभोक्ताओं को अपने मीटर को रिमोटली ऑन या ऑफ करने के लिए एक पासवर्ड या पिन याद रखना होगा, जिसे वे किसी को नहीं बताना चाहिए।

Share This Article
Leave a comment